Artwork

Nayi Dhara Radio द्वारा प्रदान की गई सामग्री. एपिसोड, ग्राफिक्स और पॉडकास्ट विवरण सहित सभी पॉडकास्ट सामग्री Nayi Dhara Radio या उनके पॉडकास्ट प्लेटफ़ॉर्म पार्टनर द्वारा सीधे अपलोड और प्रदान की जाती है। यदि आपको लगता है कि कोई आपकी अनुमति के बिना आपके कॉपीराइट किए गए कार्य का उपयोग कर रहा है, तो आप यहां बताई गई प्रक्रिया का पालन कर सकते हैं https://hi.player.fm/legal
Player FM - पॉडकास्ट ऐप
Player FM ऐप के साथ ऑफ़लाइन जाएं!

Rekhte Mein Kavita | Uday Prakash

2:37
 
साझा करें
 

Manage episode 394183344 series 3463571
Nayi Dhara Radio द्वारा प्रदान की गई सामग्री. एपिसोड, ग्राफिक्स और पॉडकास्ट विवरण सहित सभी पॉडकास्ट सामग्री Nayi Dhara Radio या उनके पॉडकास्ट प्लेटफ़ॉर्म पार्टनर द्वारा सीधे अपलोड और प्रदान की जाती है। यदि आपको लगता है कि कोई आपकी अनुमति के बिना आपके कॉपीराइट किए गए कार्य का उपयोग कर रहा है, तो आप यहां बताई गई प्रक्रिया का पालन कर सकते हैं https://hi.player.fm/legal

रेखते में कविता | उदय प्रकाश

जैसे कोई हुनरमन्द आज भी

घोड़े की नाल बनाता दीख जाता है

ऊँट की खाल की मसक में जैसे कोई भिश्ती

आज भी पिलाता है जामा मस्जिद और चाँदनी चौक में

प्यासों को ठण्डा पानी

जैसे अमरकंटक में अब भी बेचता है कोई साधू

मोतियाबिन्द के लिए गुलबकावली का अर्क

शर्तिया मर्दानगी बेचता है

हिन्दी अख़बारों और सस्ती पत्रिकाओं में अपनी मूँछ और पग्गड़ के

फ़ोटो वाले विज्ञापन में हकीम बीरूमल आर्यप्रेमी

जैसे पहाड़गंज रेलवे स्टेशन के सामने सड़क की पटरी पर

तोते की चोंच में फँसा कर बाँचता है ज्योतिषी

किसी बदहवास राहगीर का भविष्य

और तुर्कमान गेट के पास गौतम बुद्ध मार्ग पर

ढाका या नेपाल के किसी गाँव की लड़की

करती है मोलभाव रोगों, गर्द, नींद और भूख से भरी

अपनी देह का

जैसे कोई गड़रिया रेल की पटरियों पर बैठा

ठीक गोधूलि के समय

भेड़ों को उनके हाल पर छोड़ता हुआ

आज भी बजाता है डूबते सूरज की पृष्ठभूमि में

धरती का अन्तिम अलगोझा

इत्तेला है मीर इस ज़माने में

लिक्खे जाता है मेरे जैसा अब भी कोई-कोई

उसी रेख़्ते में कविता।

  continue reading

383 एपिसोडस

Artwork
iconसाझा करें
 
Manage episode 394183344 series 3463571
Nayi Dhara Radio द्वारा प्रदान की गई सामग्री. एपिसोड, ग्राफिक्स और पॉडकास्ट विवरण सहित सभी पॉडकास्ट सामग्री Nayi Dhara Radio या उनके पॉडकास्ट प्लेटफ़ॉर्म पार्टनर द्वारा सीधे अपलोड और प्रदान की जाती है। यदि आपको लगता है कि कोई आपकी अनुमति के बिना आपके कॉपीराइट किए गए कार्य का उपयोग कर रहा है, तो आप यहां बताई गई प्रक्रिया का पालन कर सकते हैं https://hi.player.fm/legal

रेखते में कविता | उदय प्रकाश

जैसे कोई हुनरमन्द आज भी

घोड़े की नाल बनाता दीख जाता है

ऊँट की खाल की मसक में जैसे कोई भिश्ती

आज भी पिलाता है जामा मस्जिद और चाँदनी चौक में

प्यासों को ठण्डा पानी

जैसे अमरकंटक में अब भी बेचता है कोई साधू

मोतियाबिन्द के लिए गुलबकावली का अर्क

शर्तिया मर्दानगी बेचता है

हिन्दी अख़बारों और सस्ती पत्रिकाओं में अपनी मूँछ और पग्गड़ के

फ़ोटो वाले विज्ञापन में हकीम बीरूमल आर्यप्रेमी

जैसे पहाड़गंज रेलवे स्टेशन के सामने सड़क की पटरी पर

तोते की चोंच में फँसा कर बाँचता है ज्योतिषी

किसी बदहवास राहगीर का भविष्य

और तुर्कमान गेट के पास गौतम बुद्ध मार्ग पर

ढाका या नेपाल के किसी गाँव की लड़की

करती है मोलभाव रोगों, गर्द, नींद और भूख से भरी

अपनी देह का

जैसे कोई गड़रिया रेल की पटरियों पर बैठा

ठीक गोधूलि के समय

भेड़ों को उनके हाल पर छोड़ता हुआ

आज भी बजाता है डूबते सूरज की पृष्ठभूमि में

धरती का अन्तिम अलगोझा

इत्तेला है मीर इस ज़माने में

लिक्खे जाता है मेरे जैसा अब भी कोई-कोई

उसी रेख़्ते में कविता।

  continue reading

383 एपिसोडस

Minden epizód

×
 
Loading …

प्लेयर एफएम में आपका स्वागत है!

प्लेयर एफएम वेब को स्कैन कर रहा है उच्च गुणवत्ता वाले पॉडकास्ट आप के आनंद लेंने के लिए अभी। यह सबसे अच्छा पॉडकास्ट एप्प है और यह Android, iPhone और वेब पर काम करता है। उपकरणों में सदस्यता को सिंक करने के लिए साइनअप करें।

 

त्वरित संदर्भ मार्गदर्शिका