Arati सार्वजनिक
[search 0]

Download the App!

show episodes
 
हिन्दी भक्ति गीत, भजन, कीर्तन, आरती, चालीसा - शब्द एवं गान : bhajans.ramparivar.com Hindi Bhakti Geet, Bhajan, Kirtan, Arati and Chalisa with MP3 audio and youtube video (written/composed/sung by and favorites of Shri Ram Parivar - our family and friends)
 
Loading …
show series
 
Listen to this Holi `Holi aayii re kaanhaa brij ke basiya' in the voice of Dr. Uma Shrivastava होलीआई रे कान्हा बृज के बसिया होलीआई रे कान्हा… आज बिरज में धूम मची है, सब मिल खेलें होली झांझ मृदङ्ग मंजीरा बाजे, नाचे छोरा छोरी ऐसी धूम मची बृज में रसिया होलीआई रे कान्हा… अपने अपने घर से निकसी, कोई श्यामल कोई गोरी, किसी के हाथ गुलाल पिटारी कोई मारे पिच…
 
Listen to the Holi `Ram Janki ki Hori` sung by Shri Vibhu Varma राम-जानकी की होरी (२) जनकपुर देखन चलो री, राम-जानकी की होरी… कौशल भूषण इत रघुनन्दन, उत मिथिलेश किशोरी, (२) सखा राम के, सखी सिया की, (२) कैसा ये फाग रचो री, जुगल छवि आज लखो री, राम जानकी की होरी… लपक झपक सीता ने लक्ष्मण, पकड़ लिये बरजोरी, (२) कहां गये वो धनुष बाण अब, (२) बेंदी माथे धरो …
 
Listen to the Holi `Holi Aaj jale chahe kaal jale` in the voice of Shri Abhay Shrivastava. होली आज जले चाहे काल जले (२) मोरा श्याम सुन्दर मोसे आन मिले (२) होली आज जले ... जब सब सखियाँ श्रृंगार करत हैं, मैं बिरहन बिरहा से जलूँ सखी मैं बिरहन बिरहा से जलूँ होली आज जले ... सब के पिया घर ही बसत हैं, हमरे पिया परदेस बसे री सखी हमरे पिया परदेस बसे होली आज…
 
Listen to the Holi, Mohan Ajab Khilari` in the voice of Shri Abhay Shrivastava मोहन अजब खिलाड़ी, देखो होली कौतुक भारी मोहन अजब... नर तन धर सोई नट नागर, श्री वृषभानु दुलारी, (२) दिखलावत नित नये तमाशे, (२) चतुरन बहुत विचारी, बुद्धि सबकी पचि हारी मोहन अजब... मन मटकी भर प्रेम रंग से, सुचिता की पिचकारी (२) तक तक मारिये श्याम सुंदर पर, (२) चूके न अवसर भा…
 
राम परिवार में गाये जाने वाले पारंपरिक होली गीत बिरज में धूम मचायो कान्हा मैं तो रंगी तुम ही रंग प्यारे मोहन अजब खिलाड़ी राम जानकी की होरी होरी खेलत गिरधारी होली आज जले चाहे काल जले होली आयी रे कान्हा बृज के बसियाद्वारा Shri Ram Parivar
 
Listen to the Holi, Biraj me dhoom machayo Kanha in the voice of Shri V N Shrivastav, Bhola. बिरज में धूम मचायो कान्हा (2) बिरज में धूम … बिरज में धूम मचायो कान्हा बिरज में धूम … कैसे कैसे जाऊँ, कैसे कैसे जाऊँ, अपने धाम बिरज में धूम मचायो कान्हा (2) बिरज में धूम … कैसे कैसे जाऊँ, मैं, कैसे कैसे जाऊँ, अपने धाम बिरज में धूम मचायो कान्हा (2) बिरज में …
 
Bhajan: Ram Bhaja so Jeeta Jag Me Listen to the bhajan sung by Shri V N Shrivastav 'Bhola' राम भजा सो जीता जग में, राम भजा सो जीता रे। ​हृदय शुद्ध नही कीन्हों मूरख, कहत सुनत दिन बीता रे। राम भजा सो जीता जग में ... हाथ सुमिरनी, पेट कतरनी, पढ़ै भागवत गीता रे। हिरदय सुद्ध किया नहीं बौरे, कहत सुनत दिन बीता रे। राम भजा सो जीता जग में ... और देव की पूजा …
 
Listen to VNS 'Bhola' teaching the bhajan to Prarthana & Chhavi. ये सब तुम्हारी मैहर है प्यारे, ये सब तुम्हारी मैहर है बाबा, कि अब भी महफिल जमी हुई है । जहाँ भी देखूँ जिधर भी देखूँ, तुम्हारी मूरत/सूरत पड़े दिखाई । यहाँ के हर शय में प्यारे बाबा, तुम्हारी ख़ुशबू भरी हुई है ॥ ये सब तुम्हारी मैहर है बाबा, कि अब भी महफिल जमी हुई है । जो आँख मूदूँ तो यूँ ल…
 
Dhun: aate bhi Ram bolo, jaate bhi Ram bolo Listen in the Voice of Shri VNS Bhola वृद्धि आस्तिक भाव की शुभ मंगल संचार । अभ्युदय सद्‌धर्म का राम नाम विस्तार ॥ (३) गुरु को करिए वंदना, भाव से बारम्बार । नाम सुनौका से किया, जिसने भव से पार ॥ कर्म धर्म का बोध दे, जिसने बताया राम । उसके चरण सरोज को, नतशिर हो प्रणाम ॥ वारे जाऊं संत के, जो देवे शुभ नाम । ब…
 
Listen to Amritvani sung by Shri V N Shrivastav 'Bhola', Family and Friends सर्वशक्तिमते परमात्मने श्री रामाय नम: (७) (राम-कृपा अवतरण) परम कृपा सुरूप है, परम प्रभु श्री राम । जन पावन परमात्मा, परम पुरुष सुख धाम ।। १ ।। सुखदा है शुभा कृपा, शक्ति शान्ति स्वरूप । है ज्ञान आनन्द मयी, राम कृपा अनूप ।। २ ।। परम पुण्य प्रतीक है, परम ईश का नाम । तारक मंत्र…
 
Do the Sundarkand Path along with Shri Shiv Dayal Ji and Anil Shrivastava. कथा प्रारम्भ होत है, सुनहु वीर हनुमान । राम लक्षमण जानकी, करहुँ सदा कल्याण ॥ श्रीगुरु चरन सरोज रज, निज मनु मुकुरु सुधारि । बरनउँ रघुबर बिमल जसु, जो दायकु फल चारि ॥ बुद्धिहीन तनु जानिके, सुमिरो पवन कुमार । बल बुद्धि विद्या देहु मोहि, हरहु कलेश विकार ॥ श्री गणेशाय नमः श्रीजानक…
 
bhajan: Shankar Shiv Shambhu Sadhu Santan Sukhkari स्टार हिन्दुस्तान रिकार्ड कम्पनी के लिये १९५८ में लिखा और तभी इस भजन से अपना पहला कोमर्शियल रिकार्ड बना। राम कृपा से रेडियो सूरिनाम डच गयाना का सिग्नेचर ट्यून बना जो हमने १९७६ में अपने ब्रिटिश गयाना प्रवास में स्वयं सुना। आश्चर्य हुआ कि मेरा भजन मुझसे पहले अमरीका पहुंच गया। - 'Bhola' On the occasio…
 
Bhajan: jay shiv shankar aughaddani (Words/Voice - Shri V N S 'Bhola') Text and link taken from Mahavir Binavau Hanumana जय शिव शंकर औघड़दानी जय शिव शंकर औघड़दानी , विश्वनाथ विश्वम्भर स्वामी सकल बिस्व के सिरजन हारे , पालक रक्षक 'अघ संघारी' जय शिव शंकर औघड़दानी , विश्वनाथ विश्वम्भर स्वामी हिम आसन त्रिपुरारि बिराजें , बाम अंग गिरिजा महरानी जय शिव शंक…
 
Bhajan: Padho pothi me Ram Listen to the bhajan by clicking here (Audio from Bhajan Sandhya at Krishna Shivalaya on Nov 29, 2017) पढ़ो पोथी में राम, लिखो तख्ती पे राम . देखो खम्बे में राम, हरे राम राम राम .. राम, राम, राम, राम, राम ॐ . ( २) राम, राम, राम, राम, राम, राम . ( २) राम, राम, राम, राम, हरे राम राम राम .. देखो आंखों से राम, सुनो कानों से रा…
 
rom rom me ramA huA hai Listen to bhajan in the voice of V N Shrivastav 'Bhola' रोम रोम में रमा हुआ है, मेरा राम रमैया तू, सकल सृष्टि का सिरजनहारा, राम मेरा रखवैया तू, तू ही तू, तू ही तू, ... डाल डाल में, पात पात में, मानवता के हर जमात में, हर मज़हब, हर जात पात में एक तू ही है, तू ही तू, तू ही तू, तू ही तू, ... सागर का ख़ारा जल तू है, बादल में, हिम क…
 
Bhajan: re man murakh janam gavaayo Listen to bhajan by Shri VNS Bhola रे मन मूरख जनम गँवायौ । करि अभिमान विषय को राच्यो, नाम शरण नहिं आयौ ॥ मन मूरख जनम गँवायौ, रे मन मूरख जनम गँवायौ । ये संसार फूल सेमल ज्यौं, सुन्दर देखि रिझायो । चाखन लाग्यौ रुई उडि़ गई, हाथ कछू नहिं आयौ ॥ मन मूरख जनम गँवायौ, रे मन मूरख जनम गँवायौ । कहा भये अब के मन सोचें, पहिलैं …
 
Bhajan: bhaj man ram charan sukhdai Listen to the bhajan in the voice of Madhu Chandra भज मन राम चरण सुखदाई .. जिन चरनन से निकलीं सुरसरि शंकर जटा समायी . जटा शन्करी नाम पड़्यो है त्रिभुवन तारन आयी .. राम चरण सुखदाई .. शिव सनकादिक अरु ब्रह्मादिक शेष सहस मुख गायी . तुलसीदास मारुतसुत की प्रभु निज मुख करत बड़ाई .. राम चरण सुखदाई ..…
 
bhajan: ab kaise chhute ram rat lagi Listen to bhajan by Shri V N S 'Bhola' अब कैसे छूटै राम नाम रट लागी । प्रभु जी, तुम चंदन हम पानी , जाकी अँग-अँग बास समानी । प्रभु जी, तुम घन बन हम मोरा , जैसे चितवत चंद चकोरा । प्रभु जी, तुम दीपक हम बाती , जाकी जोति बरै दिन राती । प्रभु जी, तुम मोती हम धागा , जैसे सोनहिं मिलत सुहागा । प्रभु जी, तुम स्वामी हम दास…
 
Listen to the bhajan rahe janam janam tera dhyan, yahee var do mere raam Lyrics & Music Direction - V N Shrivastav 'Bhola' Voices - V N Shrivastav 'Bhola' and Amita Shrivastava अर्थ न धर्म न काम रुचि, पद न चहहुं निरवान | जनम जनम रति राम पद, यह वरदान न आन || रहे जनम जनम तेरा ध्यान, यही वर दो मेरे राम सिमरूँ निश दिन हरि नाम, यही वर दो मेरे राम । रहे …
 
Bhajan: Ram se bada Ram ka nam Listen in voice of Shri VNS Bhola, family and friends राम से बड़ा राम का नाम . अंत में निकला ये परिणाम, ये परिणाम, राम से बड़ा राम का नाम .. सिमरिये नाम रूप बिनु देखे, कौड़ी लगे ना दाम . नाम के बांधे खिंचे आयेंगे, आखिर एक दिन राम . राम से बड़ा राम का नाम .. जिस सागर को बिना सेतु के , लांघ सके ना राम . कूद गये हनुमान उसी क…
 
bhajan: hari hari hari hari sumiran karo MP3 Audio - Bhola हरि हरि, हरि हरि, सुमिरन करो, हरि चरणारविन्द उर धरो .. हरि की कथा होये जब जहाँ, गंगा हू चलि आवे तहाँ .. हरि हरि, हरि हरि, सुमिरन करो ... यमुना सिंधु सरस्वती आवे, गोदावरी विलम्ब न लावे . सर्व तीर्थ को वासा तहाँ, सूर हरि कथा होवे जहाँ .. हरि हरि, हरि हरि, सुमिरन करो ... hari hari, hari hari, …
 
hanuman janmotsav ki bahut bahut badhai Listen to Hanuman Chalisa MP3 by Shri V N Shrivastav 'Bhola', family and friends श्री राम जय राम जय जय दयालु । श्री राम जय राम जय जय कृपालु ॥ अतुलित बल धामं हेम शैलाभ देहम्‌ । दनुज वन कृषाणं ज्ञानिनां अग्रगणयम्‌ । सकल गुण निधानं वानराणामधीशम्‌ । रघुपति प्रियभक्तं वातजातं नमामि ॥ श्रीगुरु चरण सरोज रज, निज मनु …
 
Listen to Bhajan: Ram Nam Japne Vale ko Ram Milega by Shri V N Shrivastav 'Bhola' राम नाम जपने वाले को राम मिलेगा, राम नाम जपने वाले को राम मिलेगा, राम मिलेगा, उसे राम का धाम मिलेगा, राम मिलेगा, उसे राम का धाम मिलेगा.. राम नाम जपने वाले को राम मिलेगा, राम मिलेगा, उसे राम का धाम मिलेगा, राम मिलेगा, उसे राम का धाम मिलेगा.. राम धाम में दिव्य शांति विश…
 
naiharavaa hamakaa naa bhaave - bhajan by Sant Kabirdas Listen to this bhajan sung by Shri V N Shrivastav 'Bhola' by clicking here. कबीर दास जी की अति सारगर्भित रचना नैहरवा हमका न भावे !! साई की नगरी परम् अति सुंदर जहाँ कोई जान न पावे ! चाँद सूरज जहाँ पवन न पानी, को सन्देश पहुचावे ! दर्द ये साईं को सुनावे .. .!! टेक !! आगे चलों पन्थ नही सूझे, पीछे …
 
abinasi duliha kab miliho - bhajan by Sant Kabirdas Listen to the bhajan sung by Shri V N Shrivastav 'Bhola' by clicking here. अबिनासी दुलहा कब मिलिहो भगतन के रछपाल !! जल उपजी जल ही सो नेहा, रटत पियास पियास , मैं ठाढ़ी बिरहन मग जोहूँ , प्रियतम तुमरी आस !! टेक !! छोड़े नेह गेह, लगि तुमसों , भयी चरण लवलीन , तालामेलि होत घट भीतर , जैसे जल बिन मीन !! टेक…
 
deenbandhu deenanath meri tan heriye - Bhajan by Sant Malukdas Listen to this bhajan sung by Shri VNS 'Bhola' by clicking here. दीनबन्धु दीनानाथ, मेरी तन हेरिये ॥ भाई नाहिं, बन्धु नाहिं, कटुम-परिवार नाहिं । ऐसा कोई मीत नाहिं, जाके ढिंग जाइये ॥ खेती नाहिं, बारी नाहिं, बनिज ब्योपार नाहिं ऐसो कोउ साहु नाहिं जासों कछू माँगिये ॥ कहत मलूकदास छोड़ि दे पराई…
 
Ram, do nij charano me sthan words, composition and voice - V N Shrivastav 'Bhola' Click here for mp3 audio from Shri Ram Sharanam राम, दो निज चरणों में स्थान, शरणागत अपना जन जान । अधमाधम मैं पतित पुरातन । साधनहीन निराश दुखी मन। अंधकार में भटक रहा हूँ । राह दिखाओ अंगुली थाम। राम, दो ... सर्वशक्तिमय राम जपूँ मैं । दिव्य शान्ति आनन्द छकूँ मैं। सिमरन …
 
Click to Listen to hamare ramji se ram ram, kahiyo ji hanuman हमारे रामजी से राम राम कहियो जी हनुमान कहियो जी हनुमान कहियो जी हनुमान .... हमारे रामजी से राम राम कहियो जी हनुमान कहियो जी हनुमान कहियो जी हनुमान ....द्वारा Shri Ram Parivar
 
Bhajan: Sankat Mochan Kripa Nidhan Jay Hanuman Jay Jay Hanuman Listen to this bhajan sung by Shri Anil Shrivastav by clicking here. संकटमोचन कृपानिधान जय हनुमान जय जय हनुमान महावीर अतुलित बलवान जय हनुमान जय जय हनुमान अंजनि माता के नयनांजन रघुकुल भूषण केसरीनंदन ग्यारहवें रूद्र भगवान जय हनुमान जय जय हनुमान संकटमोचन कृपानिधान जय हनुमान जय जय हनुमान मह…
 
Listen to Sankat Mochan Hanumanashtak sung by Shri Ram Parivar members by clicking here. हमारे रामजी से राम राम, कहियो जी हनुमान , कहियो जी हनुमान, कहियो जी हनुमान ॥ बाल समय रवि भक्षि लियो तब, तीनहुँ लोक भयो अँधियारो । ताहि सों त्रास भयो जग को, यह संकट काहु सों जात ना टारो ।। देवन आनि करी बिनती तब, छाँड़ि दियो रबि कष्ट निवारो । को नहिं जानत है जग म…
 
Bhajan: Ya Mohan ke main roop lubhani Listen to this bhajan sung by Shri GP Shrivastava by clicking here. या मोहन के मैं रूप लुभानी । जमना के नीरे तीरे धेनु चरावै बंसी से गावै मीठी बानी ।। या मोहन के मैं रूप लुभानी । तन मन धन गिरधर पर बारूं चरणकंवल मीरा लपटानी ।। या मोहन के मैं रूप लुभानी । सुंदर बदन कमलदल लोचन बांकी चितवन मंद मुसकानी ।। या मोहन के…
 
Bhajan: sune ri maine nirbal ke bal ram Listen to this bhajan sung by Shri V N Shrivastav 'Bhola' by clicking here. सुने री मैंने निरबल के बल राम , पिछली साख भरूँ संतन की अड़े सँवारे काम । जब लग गज बल अपनो बरत्यो, नेक सरयो नहीं काम , निर्बल ह्वै बल राम पुकार्‌यो,आये आधे नाम । सुने री मैंने निरबल के बल राम । द्रुपद सुता निर्बल भईं ता दिन ,तजि आये निज…
 
Bhajan: jau kahan taji charan tumhare Listen to this bhajan sung by Shri V N S 'Bhola' by clicking here. जाऊँ कहाँ तजि चरन तुम्हारे । काको नाम पतित पावन जग, केहि अति दीन पियारे । जाऊँ कहाँ तजि चरन तुम्हारे । कौनहुँ देव बड़ाइ विरद हित, हठि हठि अधम उधारे । जाऊँ कहाँ तजि चरन तुम्हारे । खग मृग व्याध पषान विटप जड़, यवन कवन सुर तारे । जाऊँ कहाँ तजि चरन तुम…
 
bhajan : ab tum kab simaroge ram Listen to the bhajan by Shri VNS 'Bhola' by clicking here. कब सिमरोगे राम अब तुम कब सिमरोगे राम । जिवडा दो दिन को मेहमान । अब तुम कब सिमरोगे राम । चिंतामणि हरि नाम है , सफल करे सब काम । महामंत्र बोलो यही, राम राम श्री राम । अब तुम कब सिमरोगे राम । राम नाम की लूट है , लूट सके तो लूट । अंत काल पछताओगे , जब प्राण जायेग…
 
जो भजे हरि को सदा सो परम पद पायेगा .. देह के माला तिलक और भस्म नहिं कुछ काम के . प्रेम भक्ति के बिना नहिं नाथ के मन भायेगा .. दिल के दर्पण को सफ़ा कर दूर कर अभिमान को . खाक हो गुरु के चरण की तो प्रभु मिल जायेगा .. छोड़ दुनिया के मज़े और बैठ कर एकांत में . ध्यान धर हरि के चरण का फिर जनम नहीं पायेगा .. दृढ़ भरोसा मन में रख कर जो भजे हरि नाम को . कहत …
 
एक सुंदर भावपूर्ण भजन -- *परम गुरू राम मिलावनहार ।* *अति उदार, मंजुल मंगलमय,* *अभिमत - फलदातार ।।* *टूटी फूटी नाव पड़ी मम* *भीषण भव नद धार ।* *जयति जयति जय देव दयानिधि* *बेग उतारो पार ।।* यह सुन्दर रचना श्री भाई जी श्री हनुमान प्रसाद जी पोद्धार की है। (राग आसावरी -- ताल धुमाली ) (गीता प्रेस द्वारा प्रकाशित " भजन संग्रह ", पृष्ठ 351) Listen to the b…
 
Listen to this bhajan sung by Shri VNS 'Bhola' by clicking here. _______________________________________ कबीरदास जी की रचना -- प्रीति लगी तुम नाम की , पल बिसरैं नाहीं। नजर करो अब मेहर की, मोहि मिलौ गुसाईं।। बिरह सतावै हाय अब, जिव तड़पै मेरा। तुम देखन को चाव है प्रभु मिलौ सबेरा।। नैना तरसैं दरस को, पल पलक न लागै। दरदबंद दीदार का, निसि बासर जागै।। जो…
 
Bole Bole Re Ram Chiraiya by V N Shrivastav 'Bhola from Shree Ram Sharanam बोले बोले रे राम चिरैया रे बोले रे राम चिरैया। मेरी साँसों के पिंजरे में घड़ी घड़ी बोले। घड़ी घड़ी बोले। बोले बोले रे ... ना कोई खिड़की ना कोई डोरी। ना कोई चोर करे जो चोरी ऐसा मेरा है राम रमैया रे। बोले बोले रे ... उसी की नैया वही खिवैया। लहर रही उसकी लहरैया। चाहे लाख चले पु…
 
MP3 Audio जय गणेश, जय गणेश, जय गणेश, देवा . माता जाकी पारवती, पिता महादेवा .. एकदन्त, दयावन्त, चारभुजाधारी, माथे पर तिलक सोहे, मूसे की सवारी . पान चढ़े, फूल चढ़े और चढ़े मेवा, लड्डुअन का भोग लगे, सन्त करें सेवा .. अंधे को आँख देत, कोढ़िन को काया, बाँझन को पुत्र देत, निर्धन को माया . 'सूर' श्याम शरण आए, सफल कीजे सेवा, जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा .. jay…
 
MP3 Audio ॐ जय लक्ष्मी माता, मैया जय लक्ष्मी माता तुम को निस दिन सेवत, मैयाजी को निस दिन सेवत हर विष्णु विधाता . ॐ जय लक्ष्मी माता .. उमा रमा ब्रह्माणी, तुम ही जग माता ओ मैया तुम ही जग माता . सूर्य चन्द्र माँ ध्यावत, नारद ऋषि गाता ॐ जय लक्ष्मी माता .. दुर्गा रूप निरन्जनि, सुख सम्पति दाता ओ मैया सुख सम्पति दाता . जो कोई तुम को ध्यावत, ऋद्धि सिद्धि ध…
 
जगजननी जय! जय! माँ! जगजननी जय! जय! भयहारिणी, भवतारिणी, भवभामिनि जय जय। जगजननी .. तू ही सत्-चित्-सुखमय, शुद्ध ब्रह्मरूपा। सत्य सनातन, सुन्दर, पर-शिव सुर-भूपा॥ जगजननी .. आदि अनादि, अनामय, अविचल, अविनाशी। अमल, अनन्त, अगोचर, अज आनन्दराशी॥ जगजननी .. अविकारी, अघहारी, अकल कलाधारी। कर्ता विधि, भर्ता हरि, हर संहारकारी॥ जगजननी .. तू विधिवधू, रमा, तू उमा महाम…
 
MP3 Audio बोलो बरसानेवाली की जय जय जय श्याम प्यारे की जय बंसीवारे की जय बोलो पीत पटवारे की जय जय मेरे प्यारे की जय मेरी प्यारी की जय गलबाँहें डाले छवि न्यारी की जय राधे रानी की जय जय महारानी की जय नटवारी की जय बनवारी की जय राधे रानी की जय जय महारानी की जय बोलो बरसानेवाली की जय जय जय राधे से रस ऊपजे, रस से रसना गाय । अरे कृष्णप्रियाजू लाड़ली, तुम मो …
 
MP3 ऑडियो राधे राधे , राधे राधे , राधे राधे , राधे राधे राधे राधे, श्याम मिला दे जय हो राधे राधे, श्याम मिला दे गोवर्धन में, राधे राधे वृन्दावन में, राधे राधे कुसुम सरोवर, राधे राधे हर कुन्ज में, राधे राधे गोवर्धन में, राधे राधे पीली पोखर, राधे राधे मथुरा जी में, राधे राधे वृन्दावन में, राधे राधे कुन्ज कुन्ज में, राधे राधे पात पात में, राधे राधे डा…
 
MP3 Audio of Bhajan maiya tera bana rahe darbar Voice - Dr. Mrs. Premlata Paliwal मैया तेरा बना रहे दरबार बना रहे दरबार मैया तेरा तेरे पावन दर पे आके मैया हो सबका उद्धार मैया बना रहे दरबार प्रेम का दीपक ज्ञान की बाती मन मन्दिर में जले दिन राती मैया मिट जाये अंधकार मैया बना रहे दरबार गहरी नदिया, नाव पुरानी जीवन की यह अथक कहानी तू ही खेवनहार मैया बना…
 
MP3 Audio जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी तुम को निस दिन ध्यावत मैयाजी को निस दिन ध्यावत हरि ब्रह्मा शिवजी . बोलो जय अम्बे गौरी .. माँग सिन्दूर विराजत टीको मृग मद को मैया टीको मृगमद को उज्ज्वल से दो नैना चन्द्रवदन नीको बोलो जय अम्बे गौरी .. कनक समान कलेवर रक्ताम्बर साजे मैया रक्ताम्बर साजे रक्त पुष्प गले माला कण्ठ हार साजे बोलो जय अम्बे गौरी .. …
 
नमामि अम्बे दीन वत्सले, तुम्हे बिठाऊँ हृदय सिंहासन . तुम्हे पिन्हाऊँ भक्ति पादुका, नमामि अम्बे भवानि अम्बे .. श्रद्धा के तुम्हे फूल चढ़ाऊँ, श्वासों की जयमाल पहनाऊँ . दया करो अम्बिके भवानी, नमामि अम्बे भवानि अम्बे .. बसो हृदय में हे कल्याणी, सर्व मंगल मांगल्य भवानी . दया करो अम्बिके भवानी, नमामि अम्बे भवानि अम्बे .. MP3 Audio…
 
Bhajan: As kachhu samaujhi parat raghuraya अस कछु समुझि परत रघुराया ! बिनु तव कृपा दयालु ! दास-हित ! मोह न छूटै माया ॥ १ ॥ जैसे कोइ इक दीन दुखित अति असन-हीन दुख पावै । चित्र कलपतरु कामधेनु गृह लिखे न बिपति नसावै ॥ ३ ॥ जब लगि नहिं निज हृदि प्रकास, अरु बिषय-आस मनमाहीं । तुलसिदास तब लगि जग-जोनि भ्रमत सपनेहुँ सुख नाहीं ॥ ५ ॥ Listen to bhajan sung by VN…
 
Bhajan: Hari Tum Haro Jan Ki Bheer By Anjana Bhattacharya MP3 from Shree Ram Sharanam, Delhi. हरि तुम हरो जन की भीर, द्रोपदी की लाज राखी, तुम बढ़ायो चीर॥ भगत कारण रूप नरहरि धर्‌यो आप सरीर ॥ हिरण्यकश्यप मारि लीन्हो धर्‌यो नाहिन धीर॥ बूड़तो गजराज राख्यो कियौ बाहर नीर॥ दासी मीरा लाल गिरधर चरणकंवल सीर॥ hari tum haro jan kI bhIr, dropdI kI lAj rAkhI, tu…
 
Click here to listen to the bhajan Bhajan: re man hari sumiran kar leeje मंगल भवन अमंगल हारी द्रवउ सो दसरथ अजिर बिहारी रे मन, हरि सुमिरन कर लीजै । हरि सुमिरन कर लीजै । हरि सुमिरन कर लीजै । हरिको नाम प्रेमसों जपिये, हरिरस रसना पीजै । हरिगुन गाइय, सुनिय निरंतर, हरि-चरननि चित दीजै ॥ हरि-भगतनकी सरन ग्रहन करि, हरिसँग प्रीति करीजै । हरि-सम हरि जन समुझि म…
 
bhajan: aao krishna kanhaiya, hamaare ghar aao Listen to the bhajan from Shri V N Shrivastav 'Bhola' and Dr. Krishna Shrivastav आओ कृष्ण कन्हैया हमारे घर आओ माखन मिसरी दूध मलाई जो चाहो सो खाओ आओ कृष्ण कन्हैया हमारे घर आओ माखन मिसरी दूध मलाई रुचि रुचि भोग लगाओ आप भी आओ सब गोपियन को लाओ मेरे आँगन में तुम रास रचाओ आँगन में मेरे तुम रास रचाओ आओ कृष्ण क…
 
Loading …

त्वरित संदर्भ मार्गदर्शिका

Google login Twitter login Classic login