829: कहानी दारा शुकोह के दर्दनाक अंत की

20:40
 
साझा करें
 

Manage episode 250573022 series 114151
Audioboom and Radio Programmes द्वारा - Player FM और हमारे समुदाय द्वारा खोजे गए - कॉपीराइट प्रकाशक द्वारा स्वामित्व में है, Player FM द्वारा नहीं, और ऑडियो सीधे उनके सर्वर से स्ट्रीम किया जाता है। Player FM में अपडेट ट्रैक करने के लिए ‘सदस्यता लें’ बटन दबाएं, या फीड यूआरएल को अन्य डिजिटल ऑडियो फ़ाइल ऐप्स में पेस्ट करें।
मुग़ल इतिहास में हिंदू और मुसलमानों को नज़दीक लाने की जितनी पुरज़ोर कोशिश दारा शुकोह ने की थी उतनी शायद अकबर के अलावा किसी और ने नहीं. शाहजहाँ के सबसे बड़े पुत्र होने के बावजूद उन्हें राजगददी से महरूम होना पड़ा, बल्कि उनका इतना क्रूर अंत हुआ, जिसकी मिसाल आज तक नहीं मिलती. हाल ही में अवीक चंदा की एक किताब प्रकाशित हुई है, ‘ दारा शुकोह – द मैन हू वुड बी किंग’ जिसमें उनके उदय से अस्त होने की कहानी को बहुत रोचक ढ़ंग से बयान किया गया है. विवेचना में रेहान फ़ज़ल याद कर रहे हैं मुग़ल सल्तनात के इस अभागे शहज़ादे को

3030 एपिसोडस