Kahani Jaani Anjaani - Stories in Hindi

साझा करें
 

Manage series 1115048
Piyush Agarwal द्वारा - Player FM और हमारे समुदाय द्वारा खोजे गए - कॉपीराइट प्रकाशक द्वारा स्वामित्व में है, Player FM द्वारा नहीं, और ऑडियो सीधे उनके सर्वर से स्ट्रीम किया जाता है। Player FM में अपडेट ट्रैक करने के लिए ‘सदस्यता लें’ बटन दबाएं, या फीड यूआरएल को अन्य डिजिटल ऑडियो फ़ाइल ऐप्स में पेस्ट करें।
Kahani Jaani Anjaani is a Hindi Stories (kahaani) podcast series narrated by theatre and voiceover artist, Piyush Agarwal. Following the mission of making sure no stories get lost he takes you to the world of Beautiful Hindi narrations & emotions. So stay tuned for new and old Hindi stories - every Friday! His weekly dramatized narrations of lesser known stories from popular authors like Premchand, Bhishm Sahani, Mannu Bhandari, Rabindranath Tagore along with curated stories by new-age hindi writers and their exclusive interviews are loved by over 100k listeners worldwide. Some of the popular writers featured on the podcast are Divya Prakash Dubey, Deepti Mittal, Sudha Arora, SuryaBala, Anurag Sharma and Sushant Supriye. Piyush is known to bring life to unheard, curated, best stories in Hindi to transport the listeners to a different world but also making an important contribution to Hindi literature. Listen to top rated stories that bring the world together for their love of listening to tales and audiodramas in hindi. कहानी जानी अनजानी पॉडकास्ट खूबसूरत हिंदी कहानियों की शृंखला है जो थिएटर और वॉइसओवर कलाकार पियूष अग्रवाल द्वारा बयान की गयी है | पियूष का एक सपना की कोई भी कहानी यूँ ही कहीं खो ना जाए , वो आपको ले जाएंगे खूबसूरत हिंदी कहानियों की दुनिया में। अपनी इस कोशिश से वह प्रेमचंद, भीष्म साहनी, मन्नू भंडारी, महादेवी वर्मा जैसे जाने माने लेखकों की अनसुनी कहानियों के साथ साथ नयी वाली हिंदी के लेखक दिव्या प्रकाश दुबे, दीप्ति मित्तल, ससूर्यबाला, सुधा अरोरा, अनुराग शर्मा और शुशांत सुप्रिये जैसे कई लेखकों की रचनाओं को विष्व भर में लोक प्रिय बना रहे है। कहानियों के साथ कई लेखकों से ख़ास इंटरव्यू भी उनके पॉडकास्ट में शामिल है। अपनी कहानी सुनाने के अनोखे शिल्प के साथ, पियूष ने सुनने वालो को एक अलग दुनिया में ले जाते है और हिंदी साहित्य के लिए एक बहुमूल्य तोहफा दिया है। तो बने रहिये पियूष अग्रवाल के साथ कुछ नए कुछ पुराने किस्से - कहानियों के लिये|

86 एपिसोडस