Artwork

IVM Podcasts द्वारा प्रदान की गई सामग्री. एपिसोड, ग्राफिक्स और पॉडकास्ट विवरण सहित सभी पॉडकास्ट सामग्री IVM Podcasts या उनके पॉडकास्ट प्लेटफ़ॉर्म पार्टनर द्वारा सीधे अपलोड और प्रदान की जाती है। यदि आपको लगता है कि कोई आपकी अनुमति के बिना आपके कॉपीराइट किए गए कार्य का उपयोग कर रहा है, तो आप यहां बताई गई प्रक्रिया का पालन कर सकते हैं https://hi.player.fm/legal
Player FM - पॉडकास्ट ऐप
Player FM ऐप के साथ ऑफ़लाइन जाएं!

एपिसोड. 08: अलंकृता श्रीवास्तव: रोक सको तो रोक लो!

35:02
 
साझा करें
 

संग्रहीत श्रृंखला ("निष्क्रिय फ़ीड" status)

When? This feed was archived on September 05, 2021 08:07 (2+ y ago). Last successful fetch was on December 11, 2020 05:08 (3+ y ago)

Why? निष्क्रिय फ़ीड status. हमारे सर्वर निरंतर अवधि के लिए एक वैध डिजिटल ऑडियो फ़ाइल फ़ीड पुनर्प्राप्त करने में असमर्थ थे।

What now? You might be able to find a more up-to-date version using the search function. This series will no longer be checked for updates. If you believe this to be in error, please check if the publisher's feed link below is valid and contact support to request the feed be restored or if you have any other concerns about this.

Manage episode 228308535 series 2482880
IVM Podcasts द्वारा प्रदान की गई सामग्री. एपिसोड, ग्राफिक्स और पॉडकास्ट विवरण सहित सभी पॉडकास्ट सामग्री IVM Podcasts या उनके पॉडकास्ट प्लेटफ़ॉर्म पार्टनर द्वारा सीधे अपलोड और प्रदान की जाती है। यदि आपको लगता है कि कोई आपकी अनुमति के बिना आपके कॉपीराइट किए गए कार्य का उपयोग कर रहा है, तो आप यहां बताई गई प्रक्रिया का पालन कर सकते हैं https://hi.player.fm/legal

अलंकृता श्रीवास्तव हिंदी फ़िल्म निर्देशिकाओं की नई पीढ़ी की नुमाइंदगी करती हैं. उनका कहना है कि प्रकाश झा के साथ काम करके उन्होने ना सिर्फ़ फ़िल्म बनाने की कला सीखी है बल्कि अड़ कर खड़े रहने का हुनर भी हासिल किया है. उनकी फ़िल्म 'लिपस्टिक अंडर माए बुर्खा' की रिलीज़ को लेकर सेंसर बोर्ड से हुई तनातनी ने अलंकृता के इरादों को दबाया नहीं है बल्कि हवा दे दी है. सुनिए अलंकृता के अब तक के करियर की कहानी, उनका अनुभव और अगली फ़िल्म पर बातचीत.

‘Lipstick Under my Burkha’ director Alankrita Shrivastava had to fight a long battle with the Indian censor board. The film could finally release later on and Alankrita garnered a lot of support in India and overseas as well. Do these tensions impact a filmmaker’s practice? What sort of stories does she want to bring to the Indian audience? On this episode of Cine-Maya, Alankrita shares her deep seated ideas, influences and the time that she spent as Prakash Jha’s assistant.

You can listen to this show and other awesome shows on the new and improved IVM Podcast App on Android: https://ivm.today/android or iOS: https://ivm.today/ios

  continue reading

9 एपिसोडस

Artwork
iconसाझा करें
 

संग्रहीत श्रृंखला ("निष्क्रिय फ़ीड" status)

When? This feed was archived on September 05, 2021 08:07 (2+ y ago). Last successful fetch was on December 11, 2020 05:08 (3+ y ago)

Why? निष्क्रिय फ़ीड status. हमारे सर्वर निरंतर अवधि के लिए एक वैध डिजिटल ऑडियो फ़ाइल फ़ीड पुनर्प्राप्त करने में असमर्थ थे।

What now? You might be able to find a more up-to-date version using the search function. This series will no longer be checked for updates. If you believe this to be in error, please check if the publisher's feed link below is valid and contact support to request the feed be restored or if you have any other concerns about this.

Manage episode 228308535 series 2482880
IVM Podcasts द्वारा प्रदान की गई सामग्री. एपिसोड, ग्राफिक्स और पॉडकास्ट विवरण सहित सभी पॉडकास्ट सामग्री IVM Podcasts या उनके पॉडकास्ट प्लेटफ़ॉर्म पार्टनर द्वारा सीधे अपलोड और प्रदान की जाती है। यदि आपको लगता है कि कोई आपकी अनुमति के बिना आपके कॉपीराइट किए गए कार्य का उपयोग कर रहा है, तो आप यहां बताई गई प्रक्रिया का पालन कर सकते हैं https://hi.player.fm/legal

अलंकृता श्रीवास्तव हिंदी फ़िल्म निर्देशिकाओं की नई पीढ़ी की नुमाइंदगी करती हैं. उनका कहना है कि प्रकाश झा के साथ काम करके उन्होने ना सिर्फ़ फ़िल्म बनाने की कला सीखी है बल्कि अड़ कर खड़े रहने का हुनर भी हासिल किया है. उनकी फ़िल्म 'लिपस्टिक अंडर माए बुर्खा' की रिलीज़ को लेकर सेंसर बोर्ड से हुई तनातनी ने अलंकृता के इरादों को दबाया नहीं है बल्कि हवा दे दी है. सुनिए अलंकृता के अब तक के करियर की कहानी, उनका अनुभव और अगली फ़िल्म पर बातचीत.

‘Lipstick Under my Burkha’ director Alankrita Shrivastava had to fight a long battle with the Indian censor board. The film could finally release later on and Alankrita garnered a lot of support in India and overseas as well. Do these tensions impact a filmmaker’s practice? What sort of stories does she want to bring to the Indian audience? On this episode of Cine-Maya, Alankrita shares her deep seated ideas, influences and the time that she spent as Prakash Jha’s assistant.

You can listen to this show and other awesome shows on the new and improved IVM Podcast App on Android: https://ivm.today/android or iOS: https://ivm.today/ios

  continue reading

9 एपिसोडस

Όλα τα επεισόδια

×
 
Loading …

प्लेयर एफएम में आपका स्वागत है!

प्लेयर एफएम वेब को स्कैन कर रहा है उच्च गुणवत्ता वाले पॉडकास्ट आप के आनंद लेंने के लिए अभी। यह सबसे अच्छा पॉडकास्ट एप्प है और यह Android, iPhone और वेब पर काम करता है। उपकरणों में सदस्यता को सिंक करने के लिए साइनअप करें।

 

त्वरित संदर्भ मार्गदर्शिका