Psalm 58:1-11 परमेश्वर धर्मी न्यायी है/God Is A Righteous Judge

47:36
 
साझा करें
 

Manage episode 345006303 series 3247075
मार्ग सत्य जीवन द्वारा - Player FM और हमारे समुदाय द्वारा खोजे गए - कॉपीराइट प्रकाशक द्वारा स्वामित्व में है, Player FM द्वारा नहीं, और ऑडियो सीधे उनके सर्वर से स्ट्रीम किया जाता है। Player FM में अपडेट ट्रैक करने के लिए ‘सदस्यता लें’ बटन दबाएं, या फीड यूआरएल को अन्य डिजिटल ऑडियो फ़ाइल ऐप्स में पेस्ट करें।

परमेश्वर ही सच्चाई से न्याय करता है, इसलिए उसके न्याय में आशा रखिए।

भजन संहिता 58:1-11

God Judges Righteously, Therefore Put Your Hope In His Justice.

Psalm 58:1-11

1.मनुष्य स्वभाव से ही अन्यायी व पूर्ण भ्रष्ट है।

2.परमेश्वर भ्रष्ट दुष्टों का न्याय करेगा।

3.परमेश्वर के सच्चे न्याय में धर्मियों का आनन्द और प्रतिफल है।

#margsatyajeeva #मार्गसत्यजीवन #msj #hindisermon #psalms

https://margsatyajeevan.com/

https://www.instagram.com/margsatyaje...

https://www.facebook.com/margsatyajee...

https://anchor.fm/margsatyajeevan

https://youtu.be/ChOHTrM9EIM

--- Send in a voice message: https://anchor.fm/marg-satya-jeevan/message

511 एपिसोडस