Bhavna Pathak सार्वजनिक
[search 0]
अधिक

Download the App!

show episodes
 
Loading …
show series
 
यह कविता मन की चंचलता को दर्शाती है जो पल पल बदलता रहता है, निराशा और आशा के बीच गोते खाता रहता है।
 
This poem "Kadwi Chocolate" is based on child sexual abuse. This issue has been raised in Kahaani 2 of Vidya Balan as well. But we hardly talk on such sensitive issue.
 
आज अंतरराष्ट्रीय कविता दिवस पर Timtim की एक नई प्रस्तुति, राष्ट्र कवि मैथलीशरण गुप्त की कविता "नर हो न निराश करो मन को"। यह कविता घनघोर निराशा में भी उम्मीद कि लौ जलाती है।
 
Loading …

त्वरित संदर्भ मार्गदर्शिका

Google login Twitter login Classic login