कोरोना की करुण तस्वीरें, वैक्सीन कहाँ से आएगी और सरकार अब क्या कर सकती है: तीन ताल Ep 28

1:47:13
 
साझा करें
 

संग्रहीत श्रृंखला ("निष्क्रिय फ़ीड" status)

When? This feed was archived on October 24, 2022 02:54 (1M ago). Last successful fetch was on October 09, 2021 15:33 (1y ago)

Why? निष्क्रिय फ़ीड status. हमारे सर्वर निरंतर अवधि के लिए एक वैध डिजिटल ऑडियो फ़ाइल फ़ीड पुनर्प्राप्त करने में असमर्थ थे।

What now? You might be able to find a more up-to-date version using the search function. This series will no longer be checked for updates. If you believe this to be in error, please check if the publisher's feed link below is valid and contact support to request the feed be restored or if you have any other concerns about this.

Manage episode 297078621 series 2949269
Aaj Tak Radio द्वारा - Player FM और हमारे समुदाय द्वारा खोजे गए - कॉपीराइट प्रकाशक द्वारा स्वामित्व में है, Player FM द्वारा नहीं, और ऑडियो सीधे उनके सर्वर से स्ट्रीम किया जाता है। Player FM में अपडेट ट्रैक करने के लिए ‘सदस्यता लें’ बटन दबाएं, या फीड यूआरएल को अन्य डिजिटल ऑडियो फ़ाइल ऐप्स में पेस्ट करें।

तीन ताल के इस एपिसोड में कमलेश ताऊ, पाणिनि बाबा और कुलदीप सरदार से सुनिए:

क्यों हमें पॉडकास्ट सुनना चाहिये? पॉडकास्ट से दिमाग की कसरत कैसे होती है और क्यों ये टीवी से बेहतर है.

कोरोना वैक्सीन की प्राइसिंग के कनफ़्यूजन पर बात. क्यों सरकार को वैक्सीन बनाने वालों की बाँह मरोड़नी चाहिए थी?

इस मुश्किल समय में मदद करने वालों को समर्पित एक कविता.

प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना पर जो सम्बोधन दिया, उसका हासिल. एक भाषण क्या बदल सकता था?

शराब के ठेके पर कतार में खड़ी एक अधेड़ महिला को देख क्यों कुछ लोग हंसते हैं और कुछ की भौहें तन जाती हैं?

साक़ी कौन है जो सिर्फ़ पिलाती है, कभी साथ बैठकर पीती नहीं? क्यों पीने का शऊर सिर्फ़ फ़क़ीरों को आता है?

''साड्डा जीवन, उच्च बिज़ार' में कोरोना के दौर के चोरों पर बात. चोर जो पीपीई किट पहनकर आए और चोर जो वैक्सीन लौटा गया. इन चोरों से सरकारें क्या सीख सकती हैं?

एक और बिज़ार ख़बर, जब शहर के नाम से कन्फ्यूज हुआ फेसबुक और गाली समझकर उसका पेज हटा दिया. इसी बहाने भारत में अजीब नामों वाली जगहें और कैसे पड़ा उनका नाम?

मलयाली फ़िल्म 'द ग्रेट इंडियन किचन' के रसोई के दृश्यों में छिपी पितृसत्तात्मक व्यवस्था की कहानी और क्यों बॉलीवुड को मलयाली सिनेमा से सीखने की ज़रूरत?

न्योता वाले श्रोता के हिस्से में बिहार के छपरा से आये सनी कुमार की भावुक की चिट्ठी.

अपनी पसंद के पॉडकास्ट सुनने का आसान तरीका, हमें सब्सक्राइब करें यूट्यूब और टेलीग्राम पर. फेसबुक पर जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें.

52 एपिसोडस