माहौल की महिमा। Why Narratives Matter?

1:12:14
 
साझा करें
 

Manage episode 280827747 series 2774032
IVM Podcasts द्वारा - Player FM और हमारे समुदाय द्वारा खोजे गए - कॉपीराइट प्रकाशक द्वारा स्वामित्व में है, Player FM द्वारा नहीं, और ऑडियो सीधे उनके सर्वर से स्ट्रीम किया जाता है। Player FM में अपडेट ट्रैक करने के लिए ‘सदस्यता लें’ बटन दबाएं, या फीड यूआरएल को अन्य डिजिटल ऑडियो फ़ाइल ऐप्स में पेस्ट करें।

Narratives are all around us. Whether it's policy, politics, or the economy, the stories we tell and listen matter. In this Puliyabaazi, we discuss why narratives have the power to make the unreal real with economic historian and assistant professor at IIM Bangalore, Prateek Raj (@PrateekRaj_).

आजकल “नैरेटिव” का बोलबाला है. हर कोई नए तरीकों से कहानियाँ बुन रहा है - भले ही उसका तथ्य से कोई वास्ता हो या नहीं. इस शब्द का मतलब क्या है और नैरेटिव हमारी अर्थव्यवस्था और राजनीति पर क्या असर करते है, ऐसे ही कुछ सवालों पर पुलियाबाज़ी आर्थिक इतिहासकार प्रतीक राज के साथ.

For more:

  1. Can Narratives Shape Society?, ProMarket, by Prateek Raj

  2. A Brief history of the Marketplace of Ideas, Milken Review, by Prateek Raj

  3. A Culture of Growth: The Origins of the Modern Economy, a book by Joel Mokyr

  4. Bourgeois Trilogy book series by Dierdre McCloskey


Puliyabaazi is on these platforms:

Twitter: https://twitter.com/puliyabaazi

Facebook: https://www.facebook.com/puliyabaazi

Instagram: https://www.instagram.com/puliyabaazi/

Subscribe & listen to the podcast on iTunes, Google Podcasts, Castbox, AudioBoom, YouTube, Spotify or any other podcast app.

105 एपिसोडस