Special Episode: संविधान का मुखड़ा

16:52
 
साझा करें
 

Manage episode 249581771 series 2296248
IVM Podcasts द्वारा - Player FM और हमारे समुदाय द्वारा खोजे गए - कॉपीराइट प्रकाशक द्वारा स्वामित्व में है, Player FM द्वारा नहीं, और ऑडियो सीधे उनके सर्वर से स्ट्रीम किया जाता है। Player FM में अपडेट ट्रैक करने के लिए ‘सदस्यता लें’ बटन दबाएं, या फीड यूआरएल को अन्य डिजिटल ऑडियो फ़ाइल ऐप्स में पेस्ट करें।

The Preamble of the Indian Constitution has become a rallying point for lakhs of anti-CAA and NRC protesters across India. The preamble is being read out every single day on the streets of several cities. However, the Hindi version of the Preamble is hardly being read out, possibly because it uses ornate and archaic Hindi. So in this special episode of Puliyabaazi, we attempt a simpler version of the preamble. Our hope here is that listeners will create similar versions of the preamble in other Indian languages. Please do write to us at puliyabaazi@gmail.com with your versions so that we can compile the preamble in all languages in one place.

नागरिकता संशोधन अधिनियम के कई विरोध प्रदर्शनों में संविधान की उद्देशिका का लाखों-करोड़ों लोग उच्चार कर रहे है | इससे प्रेरणा लेते हुए हमने सोचा कि इस उद्देशिका को सरल भाषा में लिखा जाना चाहिए | इसी प्रयास पर हमारा यह छोटा सा स्पेशल एपिसोड | आशा करते है कि यह सुनकर श्रोतागण साड़ी भारतीय भाषाओँ में उद्देशिका का सरल अनुवाद करेंगे और हमे puliyabaazi@gmail.com पर भेजेंगे जिससे हम आपके नाम सहित इन संस्करणों को एक साथ पब्लिश करेंगे|

सरल भाषा में संविधान का मुखड़ा कुछ इस प्रकार है:

हम, भारत के लोग, सच्चे मन से भारत को एक
ख़ुदमुख़्तार समाजवादी पंथनिरपेक्ष लोकतांत्रिक गणराज्य में गठित करते हैं
ताकि सभी नागरिकों को मिले:

न्याय - सामाजिक, आर्थिक, और राजनैतिक,
आज़ादी - सोच, इज़हार, यक़ीन, धर्म और इबादत की,
बराबरी - दर्जे और अवसर की,
भाईचारा - जिससे व्यक्ति की गरिमा और देश की एकता दोनों बरक़रार रहे,

इस प्रण के साथ इस संविधान सभा में २६ नवम्बर, १९४९ को यह संविधान अपनाते है |

Further reading:
1) Reclaiming nationalism at the turn of the decade - Natasha Badhwar, Mint
2) ‘We, the people’ - Nitin B., The News Minute
3) It is Everybody’s Constitution - Gautam Bhatia, The Hindu

Puliyabaazi is on these platforms:
Twitter: https://twitter.com/puliyabaazi
Facebook: https://www.facebook.com/puliyabaazi
Instagram: https://www.instagram.com/puliyabaazi/
Subscribe & listen to the podcast on iTunes , Google Podcasts, Castbox , AudioBoom , YouTube or any other podcast app.

70 एपिसोडस