Ep. 75: भारत में बैंकिंग: हुंडी से सरकारीकरण तक

1:21:16
 
साझा करें
 

Manage episode 275591847 series 2296248
IVM Podcasts द्वारा - Player FM और हमारे समुदाय द्वारा खोजे गए - कॉपीराइट प्रकाशक द्वारा स्वामित्व में है, Player FM द्वारा नहीं, और ऑडियो सीधे उनके सर्वर से स्ट्रीम किया जाता है। Player FM में अपडेट ट्रैक करने के लिए ‘सदस्यता लें’ बटन दबाएं, या फीड यूआरएल को अन्य डिजिटल ऑडियो फ़ाइल ऐप्स में पेस्ट करें।

What’s the history of banking in India? Do bank deposits lead to bank loans or is it the other way around? Why did coastal Karnataka spring up so many private banks?

In this episode, Amol Agrawal (@mostlyeconomics), Assistant Professor at Amrut Mody School of Management, Ahmedabad University, gives us a tour de force of the history of banking in India. Amol also runs Mostly Economics, one of India’s foremost blogs on economics and economic history.

एक बैंक की असली परिभाषा क्या है? भारत में मॉडर्न बैंकिंग कब और कैसे आई? क्या भारत में हमेशा से ही ज़्यादातर बैंक सरकार द्वारा संचालित थे? १९६९ में बैंक सरकारीकरण क्यों हुआ? इस पुलियाबाज़ी में आपको मिलेंगे इन सब सवालों के जवाब अमोल अग्रवाल से जिन्होंने भारत के बैंकिंग इतिहास का बारीकी से अध्ययन किया है |

For more:

  1. Mostly Economics -- Amol’s blog

  2. Money Creation in the Modern Economy by McLeay et al on what comes first, deposits or loans?

  3. RBI’s Annual Reports from 1936 to 1999

  4. Before Thaler there was Pai -- Amol’s article in Mint on Pigmy Deposits of Syndicate Bank

  5. History of Bank Branching in India -- Amol’s blog post

  6. Amol’s episode on The Pragati Podcast on the same topic

Puliyabaazi is on these platforms:

Twitter: https://twitter.com/puliyabaazi

Facebook: https://www.facebook.com/puliyabaazi

Instagram: https://www.instagram.com/puliyabaazi/

Subscribe & listen to the podcast on iTunes, Google Podcasts, Castbox, AudioBoom, YouTube, Spotify or any other podcast app.

95 एपिसोडस