Episode 44: काव्य गुरु संजीव शुक्ला जी के द्वारा पारम्परिक हिंदी कविता की सुंदरता का विश्लेषण

1:11:25
 
साझा करें
 

Manage episode 296647452 series 2891115
Anupam Mishra द्वारा - Player FM और हमारे समुदाय द्वारा खोजे गए - कॉपीराइट प्रकाशक द्वारा स्वामित्व में है, Player FM द्वारा नहीं, और ऑडियो सीधे उनके सर्वर से स्ट्रीम किया जाता है। Player FM में अपडेट ट्रैक करने के लिए ‘सदस्यता लें’ बटन दबाएं, या फीड यूआरएल को अन्य डिजिटल ऑडियो फ़ाइल ऐप्स में पेस्ट करें।

संजीव शुक्ला जी पारम्परिक हिंदी में छंद और सवैयों की प्रस्तुति करते हैं और साथ ही नवयुवकों को हिंदी भाषा के लिए प्रेरित करते है। उन्होंने काव्य के प्रति अपने रुझान को बड़ी ही सादगी के साथ साझा किया है। हमे इनके जैसे लोगों की समाज में बहुत जरूरत है जो युवा पीढ़ी को भाषा के असल अस्तित्व को दिखते है।

65 एपिसोडस