UN Global Communications सार्वजनिक
[search 0]
अधिक
Download the App!
show episodes
 
Loading …
show series
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...- दक्षिणी ग़ाज़ा के रफ़ाह में इसराइली सैन्य हमले के विरुद्ध, यूएन महासचिव ने किया आगाह- साढ़े छह लाख लोग रफ़ाह से हुए विस्थापित भोजन, स्वास्थ्य, आश्रय सेवाओं की विशाल क़िल्लत- वैश्विक आर्थिक स्थिति में हो रहा सुधार, मगर ऊँची ब्याज़ दर, कर्ज़ समेत अन्य चुनौतियाँ बरक़रार - डेंगू बुख़ार से बचाव के लिए, विश्व स्वास्…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...संयुक्त राष्ट्र में फ़लस्तीन की पूर्ण सदस्यता के लिए, यूएन महासभा में प्रस्ताव भारी मतों से पारित, सुरक्षा परिषद से पुनर्विचार करने का आग्रहग़ाजा के रफ़ाह शहर में इसराइली बमबारी जारी और सैन्य हमले की तैयारी, हज़ारों फ़लस्तीनी फिर हुए विस्थापितअमेरिकी विश्वविद्यालयों में फ़लस्तीन समर्थक प्रदर्शनकारी छात्रों के सा…
  continue reading
 
2024 में भारत, अमेरिका, दक्षिण अफ़्रीका समेत 50 से अधिक देशों में चुनाव आयोजित हो रहे हैं, जिनमें करोड़ों वोटर अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे.टैक्नॉलॉजी मामलों पर यूएन महासचिव के विशेष दूत अमनदीप सिंह गिल का कहना है कि कृत्रिम बुद्धिमता (एआई) टैक्नॉलॉजी से तैयार सामग्री, डीपफ़ेक तस्वीरों, वीडियों के ज़रिये भ्रामक सूचना, जानबूझकर ग़लत जानकारी को बड़…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...रफ़ाह में इसराइल के सम्भावित सैन्य हमले से क़त्लेआम होने की आशंका, संयम की अपील. ग़ाज़ा में इसराइली हमलों में हुई तबाही में, मलबे में 10 हज़ार शव दबे होने की सम्भावना.ग़ाज़ा युद्ध के विरोध में, कुछ अमेरिकी विश्वविद्यालयों में हुए प्रदर्शनों पर अत्यधिक बल प्रयोग पर चिन्ता. सूडान में युद्ध के कारण दारफ़ूर क्षेत्र …
  continue reading
 
इस सप्ताह के बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...ग़ाज़ा में इसराइली बमबारी में तबाह बुनियादी ढाँचे का मलबा साफ़ करने में लगेंगे कम से कम 14 वर्ष. ग़ाज़ा के दो अस्पतालों में मिली सामूहिक क़ब्रों से बरामद शवों के साथ युद्धापराध होने के सन्देह.ग़ाज़ा के भीषण युद्ध में लोगों की भौतिक ज़रूरतों के साथ-साथ रूहों के ज़ख़्म भी भरने की ज़रूरत.सूडान में यौन हिंसा का अन्त…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...ग़ाज़ा पट्टी में जारी लड़ाई, और ईरान-इसराइल के बीच तनातनी से मध्य पूर्व क्षेत्र के लिए गहराया संकटबदले की भावना से कार्रवाई के ख़तरनाक चक्र को तोड़ना होगा, यूएन महासचिव की पुकारनिर्धनता में फँसी महिलाओं व लड़कियों के यौन एवं प्रजनन स्वास्थ्य अधिकारों का हो रहा है हनन म्याँमार में सेना और विद्रोही गुट के बीच भीषण…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...ग़ाज़ा में लड़ाई से हो रही बर्बादी के बीच, गुज़र-बसर के लिए आम फ़लस्तीनियों का संघर्ष ज़रूरतमन्दों के लिए सहायता मार्ग में रुकावटों का सिलसिला जारीम्याँमार में हिंसक टकराव और असुरक्षा के कारण बढ़ती निर्धनता और आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं लोगयुद्धग्रस्त सूडान में जबरन विस्थापन का शिकार लोगों के लिए बढ़ती मुश्किलें…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...ग़ाज़ा में आम नागरिकों, मानवीय सहायताकर्मियों के लिए कोई सुरक्षा नहींयूएन महासचिव ने बेरोकटोक सहायता आपूर्ति, इसराइली सैन्य तौर-तरीक़ों में बदलाव की लगाई पुकारयूक्रेन में ‘हिंसक टकराव से पीड़ित आम लोगों के उत्पीड़न व दमन पर चिन्ता सैन्य तख़्तापलट के बाद उपजे संकट से जूझ रहे म्याँमार में, संयुक्त राष्ट्र ने सेवाए…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...ICJ का ग़ाज़ा पट्टी में, अकाल टालने के लिए, इसराइल को अन्तरिम कार्रवाई करने का आदेश, उधर ग़ाज़ा में तत्काल युद्धविराम की मांग तेज़.हेती में गैंग युद्ध के कारण उत्पन्न "प्रलयकारी स्थिति" का सामना करने के लिए, तुरन्त और साहसिक कार्रवाई पर ज़ोर.दुनिया भर में लगभग एक अरब आहार ख़ुराकों के समतुल्य खाद्य सामग्री हो जात…
  continue reading
 
संयुक्त राष्ट्र, अपनी विभिन्न संस्थाओं के ज़रिए, महिलाओं के किसी भी तरह के शोषण व दुर्व्यवहार से निपटने के प्रयास करता है, वहीं कई बार ऐसे भी मामले सामने आते हैं, जहाँ ख़ुद यूएन से जुड़े व्यक्ति, अपने पद का दुरुपयोग करते हुए, महिला अधिकारों के हनन व यौन उत्पीड़न में संलिप्त पाए जाते हैं. ऐसे में, विश्व भर में और भारत में स्थित संयुक्त राष्ट्र में भ…
  continue reading
 
कृत्रिम बुद्धिमता (एआई) टैक्नॉलॉजी का इस्तेमाल व्यापक क्षेत्रों में तेज़ी से हो रहा है, विशेष रूप से सैन्य उद्देश्यों के लिए. मगर, सिविल उद्देश्यों और रणभूमि व हथियार प्रणालियों में एआई टैक्नॉलॉजी के उपयोग को मानव देखरेख के दायरे में लाया जाना ज़रूरी है. संयुक्त राष्ट्र निरस्त्रीकरण शोध संस्थान (UNIDIR) में एसोसिएट रिसर्चर शिमोना मोहन ने यूएन न्यूज…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...ग़ाज़ा में युद्ध के कारण, उत्तरी इलाक़े में भुखमरी के हालात, यूएन टीमों ने जताया गहरा क्षोभ.युद्धविराम की ज़रूरत बताने वाला अमेरिकी प्रस्ताव, सुरक्षा परिषद में नाकाम.यूक्रेन में बिजली संयंत्रों पर रूसी हमलों की कड़ी निन्दा, 15 लाख लोगों की बिजली आपूर्ति ठप.जलवायु परिवर्तन के मुख्य संकेतकों ने फिर से किए नए रिकॉर…
  continue reading
 
महिलाओं की स्थिति पर आयोग (CSW68) की वार्षिक 68वीं बैठक, यूएन मुख्यालय में 11 से 22 मार्च तक आयोजित हुई, जिसमें दुनिया भर से, महिला मज़बूती और लैंगिक समानता के पैरोकारों ने शिरकत की. भारत में यूएन वीमैन की उप प्रतिनिधि कान्ता सिंह भी इस बैठक में शिरकत करने के लिए, यूएन मुख्यालय में मौजूद थीं. हमने उनसे बात की और जानना चाहा कि यूएन मुख्यालय में, लैं…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...ग़ाज़ा युद्ध के बीच विशाल ज़रूरतमन्द आबादी तक मानवीय सहायता पहुँचाने के रास्ते में चुनौतियाँफ़लस्तीनी शऱणार्थियों के लिए यूएन एजेंसी ने कहा, ग़ाज़ा में युद्ध बच्चों पर छेड़ा गया युद्ध है यूक्रेन में रूसी सैन्य बलों द्वारा युद्ध बन्दियों को यातना दिए जाने के मामलों में सामने आए नए साक्ष्य धनी देशों में मानव विकास…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...ग़ाज़ा के रफ़ाह में, इसराइल के आशंकित हमले की स्थिति में, बड़ी संख्या में लोगों की मौतें होने का डर, इस बीच भोजन नहीं मिलने के कारण, लाखों लोगों की हालत बेहद गम्भीर.महिला मज़बूती के लिए, संयुक्त राष्ट्र का एक नया कार्यक्रम, अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस पर महिलाओं में निवेश बढ़ाने की मुहिम भी.अफ़ग़ानिस्तान में अनेक …
  continue reading
 
इस सप्ताह के बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...ग़ाज़ा में भीषण लड़ाई के बीच गम्भीर खाद्य असुरक्षा, अकाल का गहराता जोखिम.ग़ाज़ा में मृतक संख्या, 30 हज़ार से अधिक, संयुक्त राष्ट्र ने लगाई तत्काल युद्धविराम की पुकार.म्याँमार में ‘असहनीय पीड़ा व क्रूरता’ भोग रहे आम नागरिकों के लिए, यूएन मानवाधिकार कार्यालय ने समर्थन का किया आग्रह.अफ़ग़ानिस्तान में सरेआम फाँसी दि…
  continue reading
 
इस सप्ताह के बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...यूक्रेन युद्ध को हुए 2 वर्ष, युद्ध तत्काल रोके जाने और शान्ति स्थापित किए जाने की पुकारें.यूक्रेन युद्ध का भीषण प्रभाव, पीढ़ियों तक किया जाएगा महसूस.ग़ाज़ा युद्ध के कारण, लाखों लोगों के लिए – मृत्यु क्षेत्र जैसे हालात, युद्धविराम की पुकारें.लैंगिक रंगभेद को मानवता के विरुद्ध अपराध की श्रेणी में रखे जाने की ज़रूर…
  continue reading
 
मंगोलिया में चरम मौसम की "श्वेत और लौह" ज़ुड स्थिति "गम्भीर" स्तर पर पहुँच गई है जिसने, देश के 90 प्रतिशत से अधिक हिस्से को अपनी चपेट में ले लिया है, और मवेशियों को चारे की भारी क़िल्लत के जोखिम का सामना करना पड़ रहा है.सर्द मौसम की ज़ुड स्थिति तब उत्पन्न होती है जब विशेष रूप से बर्फ़ की भारी चादर, पशुओं को चारे तक या पर्याप्त घास पहुँचने से रोक दे…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...रूस में विपक्षी नेता ऐलेक्सई नवालनी की, जेल में मौत होने की ख़बर पर स्तब्धता व क्षोभ.ग़ाज़ा में इसराइल का सम्भावित चौतरफ़ा हमला होने की स्थिति में, अकल्पनीय विनाश होने की आशंका.मौजूदा अन्तरराष्ट्रीय व्यवस्था भड़का रही है विभाजन और असन्तोष, कहा यूएन प्रमुख ने.हिंसक टकराव और जलवायु परिवर्तन से खाद्य असुरक्षा हो रह…
  continue reading
 
हर साल 13 फ़रवरी को विश्व रेडियो दिवस मनाया जाता है. रेडियो जनसंचार का एक महत्वपूर्ण माध्यम है, जोकि 100 साल से भी अधिक पुराना है. रेडियो दिवस एक अवसर है, इस माध्यम के इतिहास को फिर से देखने का, समाज और समुदाय में उसकी भूमिका को समझने का और ये जानने का कि जनसंचार के इस माध्यम ने किस तरह समाचार, ड्रामा, संगीत, खेलकूद और अन्य तमाम विषयों से जुड़ी जान…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...ग़ाज़ा के दक्षिणी इलाक़े – रफ़ाह में, इसराइली हमले होने की सम्भावनाओं पर गम्भीर चिन्ता. इस बीच ग़ाज़ा के अन्य इलाक़ों में, युद्ध के कारण, ज़रूरतमन्द लोगों तक मानवीय सहायता पहुँचाना बेहद कठिन.यूएन प्रमुख ने कहा, दुनिया में बढ़ते हिंसक टकरावों, ध्रुवीकरण और गहराती दरारों की पृष्ठभूमि में, शान्ति, मानवता का सर्वोपर…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...- ग़ाज़ा में भीषण लड़ाई, बमबारी के बीच, हर दिन गहरा रही है आम फ़लस्तीनियों की पीड़ा- धन की क़िल्लत से सहायता अभियान जोखिम में, यूएन एजेंसी को वित्तीय समर्थन जारी रखने की पुकार- म्याँमार में सैन्य तख़्तापलट के तीन साल, आम नागरिकों पर हुआ है गहरा असर, यूएन प्रमुख ने कहा, हिंसा व राजनैतिक दमन का अन्त ज़रूरी - दुनिय…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...अन्तरराष्ट्रीय न्यायालय – ICJ का, इसराइल को, ग़ाज़ा में जनसंहारक कृत्य रोकने के लिए भरसक उपाय करने का निर्णय.बांग्लादेश की नवनिर्वाचित सरकार से, दमनकारी प्रवृत्तियों को उलटने के लिए, सुधार लागू करने की पुकार.अफ़ग़ानिस्तान में तालेबान प्रशासन द्वारा, महिलाओं को उनके मानवाधिकारों से वंचित किए जाने पर चिन्ता.यूएन म…
  continue reading
 
इस सप्ताह के बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...यूएन एजेंसियों के अनुसार, फ़लस्तीनी क्षेत्र ग़ाज़ा में शिशुओं के लिए नरक जैसे हालात, यूएन प्रमुख ने फिर कहा – दो-राष्ट्र की स्थापना ही है स्थाई समाधान.यूएन प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने, पाकिस्तान-ईरान के बीच युद्धक झड़पों पर, जताई गम्भीर चिन्ता.अफ़ग़ानिस्तान में आर्थिक पुनर्बहाली के लिए, महिला अधिकार सुनिश्चित किए…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...ग़ाज़ा में इसराइल के तथाकथित जनसंहारक इरादों पर, अन्तरराष्ट्रीय न्यायालय – ICJ में मुक़दमे की सुनवाई, इस बीच ग़ाज़ा में तत्काल युद्धविराम की फिर पुकार.नया वर्ष शुरू होने पर भी, यूक्रेन में, युद्ध से कोई राहत नहीं.बांग्लादेश में हाल के चुनावों में हिंसा की ख़बरों के मद्देनज़र, लोकतंत्र को समावेशी बनाने की पुकार.अ…
  continue reading
 
आर्थिक एवं सामाजिक मामलों के यूएन विभाग (UN DESA) की नवीनतम ‘विश्व आर्थिक स्थिति एवं सम्भावनाएँ 2024’ नामक रिपोर्ट के अनुसार, इस वर्ष वैश्विक आर्थिक प्रगति की रफ़्तार धीमी रहने की सम्भावना है, और यह 2023 के अनुमान 2.7 प्रतिशत से घटकर 2.4 प्रतिशत पर लुढ़क सकती है. एशिया व प्रशान्त क्षेत्र के लिए यूएन आर्थिक व सामाजिक आयोग (UNESCAP) के पूर्व निदेशक, …
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...ग़ाज़ा पट्टी में बमबारी और इसराइली सैनिकों व हमास लड़ाकों के बीच घमासान लड़ाईज़रूरतमन्दों तक मानवीय राहत पहुँचाने के रास्ते में बड़े अवरोध, ग़ाज़ा में गहराता मानवीय संकटईरान में हुए धमाकों में 80 से अधिक लोगों की मौत, दोषियों को न्याय के कटघरे में लाए जाने की मांगबांग्लादेश के कॉक्सेस बाज़ार में रोहिंज्या शरणार्…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...ग़ाज़ा पट्टी में बमबारी और इसराइली कार्रवाई के बढते दायरे के बीच, विस्थापितों की बढ़ती संख्या, भोजन, आश्रय स्थलों व स्वास्थ्य सेवाओं की भारी क़िल्लत.क़ाबिज़ पश्चिमी तट में हिंसक घटनाओं में वृद्धि, फ़लस्तीनी आबादी के ‘अमानवीयकरण’ के प्रति चेतावनी.यूक्रेन में घनी आबादी वाले अनेक शहरों में मिसाइल व ड्रोन हमलों की ल…
  continue reading
 
हाल ही में संयुक्त अरब अमीरात के दुबई में कॉप28 जलवायु सम्मेलन आयोजित हुआ, जिसमें जीवाश्म ईंधन पर निर्भरता घटाने का मुद्दा विशेष रूप से चर्चा के केन्द्र में रहा. पाकिस्तानी अमेरिकी मूल की युवा जलवायु कार्यकर्ता और जलवायु परिवर्तन पर यूएन महासचिव की युवा सलाहकार टीम की सदस्य, आएशा सिद्दीक़ा का कहना है कि पिछले कई सालों से की जा रही कोशिशों के बाद ही…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...ग़ाज़ा पट्टी में गम्भीर मानवीय हालात, ज़रूरतमन्दों तक बेरोकटोक मानवीय सहायता पहुँचाने के लिए, सुरक्षा परिषद में अहम प्रस्ताव पारितअफ़ग़ानिस्तान में तालेबान और अन्तरराष्ट्रीय समुदाय के बीच सम्वाद बनाए रखने पर ज़ोर, मानवाधिकारों के मुद्दे पर प्रगति सुनिश्चित करने का भी आग्रहविश्व के अनेक हिस्सों में डेंगू के मामलो…
  continue reading
 
28-वर्षीय अजिंक्या धारिया, भारत के महाराष्ट्र राज्य में पुणे शहर से हैं और पैडकेयर (PadCareX) टैक्नॉलॉजी उन्हीं की एक पहल है. यह सैनेट्री नैपकिन को रिसाइकर करने की एक ऐसी टैक्नॉलॉजी है, जिसके ज़रिये लुगदी और प्लास्टिक को अलग करके, पैकेजिंग व कृषि क्षेत्र के लिए उत्पाद तैयार किए जाते हैं. संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) ने भविष्य को आकार दे रहे 30 …
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...यूएन महासभा के बहुमत से पारित प्रस्ताव में, ग़ाज़ा में मानवीय युद्धविराम की प्रबल मांग.युद्ध से त्रस्त ग़ाज़ा के लोगों की शिकायत – उनके साथ होता है कमतर इनसानों जैसा बर्ताव.जीवाश्म ईंधन के बारे में कुछ सन्दर्भ के साथ सम्पन्न हुआ, दुबई जलवायु सम्मेलन – कॉप28, मिली-जुली प्रतिक्रिया.सुरक्षा परिषद में सुधार के मुद्द…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...इसराइल व फ़लस्तीन के बीच संकट पर, सुरक्षा परिषद की एक और आपात बैठक, मगर मानवीय युद्धविराम की मांग करने वाला प्रस्ताव, अमेरिका के वीटो के कारण, नहीं हुआ पारित.दुबई जलवायु सम्मेलन – कॉप28 में प्रतिनिधियों से, महत्वाकांक्षी संकल्प व्यक्त करने की अपेक्षा, हानि व क्षति निधि पर सुनिएगा, डॉक्टर सुनीता नारायण के विचार.स…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक समाचार बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...ग़ाज़ा में मानवीय युद्ध-ठहराव के समझौते पर, एक सप्ताह तक अमल के बाद, शुक्रवार को युद्ध फिर भड़का.दुबई में यूएन जलवायु सम्मेलन - कॉप28 के पहले दिन, विकासशील देशों के हित के लिए, ‘हानि और क्षति निधि’ पर बनी सहमति.जलवायु परिवर्तन से, मलेरिया पर क़ाबू पाने की रफ़्तार पलट जाने का जोखिम.भारत-यूएन विकास साझेदारी…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...ग़ाज़ा में चार दिन के युद्ध-ठहराव के समझौते पर शुक्रवार को अमल शुरू, मानवीय सहायता एजेंसियों ने अपने अभियान किए तेज़.पाकिस्तान से वापिस लौटने वाले अफ़ग़ान शरणार्थियों के लिए अनेक मुश्किलें, यूएन एजेंसियाँ धन की कमी के बावजूद, सहायता में सक्रिय.यूएन महासचिव ने जलवायु परिवर्तन के प्रभावों का प्रत्यक्ष अनुभव करने क…
  continue reading
 
इस सप्ताह के बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...फ़लस्तीनी क्षेत्र ग़ाज़ा में भीषण युद्ध से स्थिति, और भी बदतर होने की आशंका. ईंधन की कमी के कारण, मानवीय सहायता आपूर्ति लगभग पूरी तरह ठप.पाकिस्तान से अफ़ग़ान शरणार्थियों की जबरन वापसी को रोकने का आग्रह.म्याँमार में, सघन होती आन्तरिक लड़ाई पर गम्भीर चिन्ता, विस्थापितों की संख्या हुई 20 लाख से अधिक.यूएन शान्तिरक्ष…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...इसराइल-ग़ाज़ा संकट पर विचार करने के लिए, शुक्रवार को सुरक्षा परिषद की फिर विशेष बैठक.यूएन मानवाधिकार प्रमुख वोल्कर टर्क ने लगाई, ग़ाज़ा में मानवीय युद्धविराम लागू करने की पुकार.नेपाल में गत सप्ताहान्त आए भूकम्प में, हताहतों की आधी संख्या बच्चों की, यूएन एजेंसियाँ मदद प्रयासों में सक्रिय.जीवाश्म ईंधन उत्पादन में …
  continue reading
 
भारत के उत्तरी हिस्से में सितम्बर-अक्टूबर के महीने, अक्सर अपने साथ वायु प्रदूषण की गम्भीर चुनौती लेकर आते हैं. राजधानी नई दिल्ली और आसपास के इलाक़ों में, वाहनों से होने वाले वायु प्रदूषण के अलावा, छोटे व मध्यम स्तर के उद्योग, कोयला आधारित उद्योग, अपशिष्ट का कुप्रबन्धन व डीज़ल जेनरेटर आदि प्रदूषित वायु के प्रमुख स्रोत हैं. इससे इतर, कुछ प्रदेशों में…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...- इसराइल-फ़लस्तीन में हिंसक टकराव का 'मासूम आम नागरिक भुगत रहे हैं ख़ामियाज़ा- ग़ाज़ा में लोगों की विशाल आवश्यकतों के मद्देनज़र, युद्ध में मानवीय आधार पर ठहराव का आग्रह- जलवायु अनुकूलन कार्रवाई ज़रूरी मगर वित्तीय संसाधनों की बड़ी क़िल्लत, यूएन पर्यावरण एजेंसी की नई रिपोर्ट- पाकिस्तान में बिना दस्तावेज़ों के रह र…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...- ​ग़ाज़ा पट्टी में भीषण बमबारी से उपजे गम्भीर हालात, यूएन महासचिव ने ज़रूरतमन्दों तक तत्काल सहायता पहुँचाने की लगाई पुकार- मानवीय आधार पर तत्काल, सतत संघर्षविराम के लिए, यूएन महासभा में पारित हुआ प्रस्ताव- युद्ध, उत्पीड़न, मानवाधिकार हनन के कारण, 11 करोड़ से अधिक विस्थापित- अफ़ग़ानिस्तान में तालेबान की दमनकारी …
  continue reading
 
सृजनात्मक क्षेत्र में जनरेटिव एआई (कृत्रिम बुद्धिमत्ता) के इस्तेमाल से विविध प्रकार की सम्भावनाएँ उपजी हैं और समय व संसाधनों की बचत के साथ, रचनात्मकता को नए आयाम दिए जा सकते हैं. मगर, एआई का प्रयोग बढ़ने से रोज़गार सुरक्षा, बौद्धिक सम्पदा अधिकार और मानव अभिव्यक्ति की मौलिकता के लिए जोखिम भी पनप रहे हैं.भारत के हैदराबाद शहर में मौलाना आज़ाद राष्ट्री…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...- ​ग़ाज़ा में गम्भीर मानवीय हालात के बीच राहत पहुँचाने के लिए कूटनैतिक प्रयासों में तेज़ी - यूएन प्रमुख पहुँचे रफ़ाह चौकी, कहा सहायता क़ाफ़िला जीवन और मृत्यु के बीच का फ़ासला - अफ़ग़ानिस्तान: भूकम्प प्रभावितों तक खाद्य सहायता पहुँचाने के लिए, 1.9 करोड डॉलर की अपील - यूक्रेन पर स्वतंत्र जाँच आयोग की नई रिपोर्ट, य…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...​हमास द्वारा किए गए हमलों के बाद, जवाबी इसराइली कार्रवाई से ग़ाज़ा पट्टी में उपजा भीषण मानवीय सकंट, मानवीय सहायता के लिए रास्ता दिए जाने की पुकार.अफ़ग़ानिस्तान के पश्चिमी हेरात प्रान्त में भूकम्प से भारी बर्बादी, यूएन एजेंसियाँ ज़रूरतमन्दों तक पहुँच रही हैं मदद.यूक्रेन की बस्तियों और नागरिक ढाँचे पर हाल ही में क…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...यूएन एजेंसियाँ - काराबाख़ से निकलकर आर्मीनिया पहुँचे, एक लाख से अधिक शरणार्थियों की ज़रूरतें पूरी करने में मदद के लिए सक्रिय.यूक्रेन में हाल ही में हुए हमले की कड़े शब्दों में निन्दा, हमले में कम से कम 49 लोगों की मौत.स्वायत्त हथियार प्रणालियों के इस्तेमाल के लिए अन्तरराष्ट्रीय नियम स्थापित किए जाने का आग्रह.अती…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...​- दक्षिणी कॉकेसस के काराबाख़ क्षेत्र से एक सप्ताह के भीतर 88 हज़ार शरणार्थी पहुँचे आर्मीनिया- संयुक्त राष्ट्र महासभा के 78वें सत्र की उच्च स्तरीय जनरल डिबेट सम्पन्न- पिछले साल आई बाढ़ के प्रभावों से अब भी जूझ रहा है पाकिस्तान, यूएन प्रमुख ने बताया जलवायु न्याय के लिए एक अहम परीक्षा- हेती को ‘अराजकता’ से बाहर नि…
  continue reading
 
यूक्रेन में मानवाधिकार हनन मामलों की जाँच कर रहे स्वतंत्र अन्तरराष्ट्रीय आयोग ने, हाल ही में मानवाधिकार परिषद को बताया कि इमारतों, बुनियादी ढाँचे और चिकित्सा संस्थानों पर किए गए हमलों, बन्दियों को यातना देने और यौन व लिंग-आधारित हिंसा के मामलों में जानकारी जुटाई गई है. यूएन मानवाधिकार परिषद ने मार्च 2022 में इस आयोग का गठन किया था, जिसका दायित्व, य…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...यूएन महासभा की उच्च स्तरीय जनरल डिबेट में, विश्व नेताओं द्वारा, दुनिया के सामने अपनी बात कहने का सिलसिला जारी.सतत विकास लक्ष्य सम्मेलन और जलवायु सम्मेलन में महत्वाकांक्षी घोषणाएँ और संकल्प.सर्वजन के स्वास्थ्य की ख़ातिर भविष्य में महामारियों की रोकथाम के लिए लिया गया संकल्प.भारत में राष्ट्रीय संसद व प्रान्तीय विध…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...यूएन महासभा का 78वें सत्र के अवसर पर यूएन प्रमुख ने कहा - 'विश्व को ज़रूरत है कार्रवाई की'.आपदा प्रभावित मोरक्को और लीबिया में, मानवीय सहायता व समर्थन प्रयासों में तेज़ी.दुनिया भर में, 33 करोड़ से ज़्यादा बच्चे हैं - चरम निर्धनता में.श्रीलंका और म्याँमार में मानवाधिकार हनन मामलों की जाँच की मांग.और ---- ‘वैश्विक…
  continue reading
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...यूएन प्रमुख ने 'एक पृथ्वी, एक कुटुम्ब, एक भविष्य' सिद्धान्त के मार्गदर्शन में, वैश्विक संकटों से निपटने पर दिया बलताप लहरों के कारण वायु गुणवत्ता में चिन्ताजनक गिरावट, स्वच्छ वायु और पर्यावरण के लिए अन्तरराष्ट्रीय सहयोग का आहवानयूएन महासभा के 78वें सत्र का उदघाटन, पारस्परिक सहयोग में निहित लाभ पर बल अफ़ग़ानिस्ता…
  continue reading
 
Loading …

त्वरित संदर्भ मार्गदर्शिका